ISRO ने तटस्थ हवाओं, प्लाज्मा डायनामिक्स: द ट्रिब्यून इंडिया में एटिट्यूडिनल विविधताओं का अध्ययन करने के लिए साउंडिंग रॉकेट लॉन्च किया

0
21
Study In Abroad

[]

बेंगलुरु, 13 मार्च

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने श्रीहरिकोटा अंतरिक्षयान से तटस्थ हवाओं और प्लाज्मा गतिकी में व्यवहारिक भिन्नताओं का अध्ययन करने के लिए एक ठोस रॉकेट लॉन्च किया है।

बेंगलुरु-मुख्यालय अंतरिक्ष एजेंसी के अनुसार, इसरो ने रोहिणी सीरीज़ में लगने वाले रॉकेटों की एक श्रृंखला विकसित की है, जिनमें आरएच -200, आरएच -300 और आरएच-560 शामिल हैं, जो कि मिमी में रॉकेट के व्यास को दर्शाते हैं।

इसरो ने ट्वीट किया, “एसडीएससी शेयर, श्रीहरिकोटा में आज (शुक्रवार) को हुई तटस्थ हवाओं और प्लाज्मा डायनामिक्स में एटिट्यूडिनल वेरिएशन का अध्ययन करने के लिए साउंडिंग रॉकेट (आरएच-560) लॉन्च किया गया।”

लगने वाले रॉकेट ऊपरी वायुमंडलीय क्षेत्रों की जांच और अंतरिक्ष अनुसंधान के लिए उपयोग किए जाने वाले एक या दो चरण के ठोस प्रणोदक रॉकेट हैं।

वे लॉन्च किए गए वाहनों और उपग्रहों में उपयोग के लिए नए घटकों या उप-प्रणालियों के प्रोटोटाइप का परीक्षण करने या साबित करने के लिए आसानी से सस्ती प्लेटफार्मों के रूप में भी काम करते हैं। – पीटीआई



[]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here